Greatest gainers and losers: Mangalam Cement, Omaxe rally 15%; 4 Adani shares fall 5%


नई दिल्ली: घरेलू इक्विटी सूचकांकों ने शुक्रवार को चार दिन की गिरावट के साथ हल्का उच्च स्तर पर समाप्त किया। बैड लोन पर आरबीआई की सावधानी के बावजूद बैंकिंग शेयरों में मजबूती के संकेत दिख रहे हैं। बाजार बाद में शाम को होने वाले अमेरिकी गैर-कृषि पेरोल डेटा का इंतजार कर रहा था।

एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स सूचकांक 166 अंक या 0.32 प्रतिशत बढ़कर 52,484.67 पर पहुंच गया। एनएसई निफ्टी 50 42.2 अंक या 0.27 प्रतिशत बढ़कर 15,722.20 पर बंद हुआ। बीएसई मिडकैप इंडेक्स में हल्की बढ़त देखी गई, लेकिन स्मॉलकैप इंडेक्स में एक फीसदी से ज्यादा की तेजी आई।

सत्र के दौरान मंगलम सीमेंट और ओमेक्स ने 15-15 फीसदी की तेजी के साथ धूम मचा दी। हालांकि, निवेशकों ने पावर मेक और इंडिया ग्लाइकोल्स में कुछ मुनाफावसूली की। अदानी समूह के शेयरों में गिरावट जारी है।

यहां शुक्रवार के सत्र के सबसे बड़े मूवर्स और शेकर्स हैं:

शेयर जिनमें रही तेजी

मंगलम सीमेंट: बीके बिड़ला समूह की सहायक कंपनी ने राजस्थान में अपने मोराक सीमेंट संयंत्र में सीमेंट और क्लिंकर उत्पादन संचालन शुरू किया। कंपनी ने प्लांट की सीमेंट क्षमता बढ़ाई है। विस्तार ने मंगलम सीमेंट की कुल सीमेंट और क्लिंकर क्षमता को 4.4 मीट्रिक टन प्रति वर्ष कर दिया। यह शेयर 15 फीसदी चढ़कर 363.30 रुपये पर पहुंच गया।

ओमेक्सरियल्टी डेवलपर के शेयर शुक्रवार को 14 फीसदी की तेजी के साथ 92 रुपये पर पहुंच गए। रियल एस्टेट कंपनी मार्च 2021 की तिमाही में 0.54 करोड़ रुपये का मुनाफा दर्ज करते हुए मुनाफे में आई। पिछले साल की इसी तिमाही में कंपनी को 126.39 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था।

इंडोको रेमेडीज, जेबी केमिकल्स: नेशनल फार्मास्युटिकल्स प्राइसिंग अथॉरिटी ने कार्बामाज़ेपाइन, रैनिटिडीन और इबुप्रोफेन जैसी कई दवाओं की अधिकतम कीमत को मौजूदा स्तर से 50 प्रतिशत की एकमुश्त वृद्धि देकर बढ़ाने को अपनी मंजूरी दे दी है।

13 फीसदी बढ़कर 55.35 रुपये और जेबी केमिकल्स एंड फार्मा 11 फीसदी बढ़कर 179.75 रुपये हो गया।

जैन सिंचाई: प्लास्टिक उत्पाद कंपनी द्वारा 31 मार्च को समाप्त तिमाही के लिए अपने शुद्ध लाभ में तेज गिरावट की रिपोर्ट के बाद शुक्रवार को स्टॉक 10 प्रतिशत बढ़कर 31.35 रुपये हो गया। मार्च 2021 को समाप्त तिमाही में इसका शुद्ध घाटा 22.25 करोड़ रुपये रहा, जबकि एक एक साल पहले की अवधि में 228.26 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा।

एचएफसीएल: 30 जून, 2021 को समाप्त तिमाही के लिए अलेखापरीक्षित परिणामों पर विचार करने और उन्हें मंजूरी देने के लिए कंपनी के बोर्ड की 12 जुलाई को बैठक होगी। टेलीकॉम गियर निर्माता का स्टॉक 9 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 72.50 पर बंद हुआ।

हारे

पावर मेक प्रोजेक्ट्स: पिछले पांच सत्रों में 40 फीसदी की तेजी के बाद शुक्रवार को काउंटर 7 फीसदी गिरकर 840 रुपये पर आ गया। कंपनी द्वारा 9,300 करोड़ रुपये का प्रोजेक्ट मिलने के बाद से काउंटर रोल पर था

सहायक।

अदानी समूह: अदानी समूह के शेयरों ने अपनी निचली सर्किट सीमा को हिट करना जारी रखा।

, अदानी टोटल गैस और अदानी ट्रांसमिशन 5-5 फीसदी की गिरावट के साथ क्रमश: 1,008.70 रुपये, 920.40 रुपये, 1,422.10 रुपये और 959.40 रुपये पर बंद हुए। अदानी एंटरप्राइजेज ने सर्किट नहीं मारा।

भारत ग्लाइकोल: शुक्रवार को काउंटर 5 फीसदी की गिरावट के साथ 710.15 रुपये पर बंद हुआ क्योंकि निवेशकों ने टेबल से कुछ मुनाफा कम लिया। पिछले एक हफ्ते में इसमें 30 फीसदी का उछाल आया था। India Glycols and Clariant ने गुरुवार को एक JV, Clariant IGL स्पेशलिटी केमिकल्स का गठन किया था।

: ब्रोकरेज और विश्लेषकों द्वारा काउंटर पर कब्जा करने के बाद काउंटर 4 फीसदी फिसलकर 168.15 रुपये पर आ गया। उन्होंने पाया कि इसका मूल्यांकन अधिक बढ़ा हुआ है। कई विश्लेषकों ने स्टॉक पर ‘बिक्री’ रेटिंग दी।

.



Source link